वेबकूफ बनाते हैं ढोंगीं ज्‍योतिषी, तांत्रिक तथा बाबा ??? कितनी सच्चाई हें.इस आरोप में???

वेबकूफ बनाते हैं ढोंगीं ज्‍योतिषी, तांत्रिक तथा बाबा ???

कितनी सच्चाई हें.इस आरोप में???

जी हां , यह कोई व्‍यंग्‍य नहीं है बल्कि सच्‍चाई है। भारत में हजारों लोग धर्म और आस्‍था के नाम पर ठगे जाते हैं, क्‍यूंकि उनका विश्‍वास ठीक लोगों पर नहीं होता है। ज्‍योतिष एक महान विद्या है, जिसे काफी ज्ञान और प्रयास के बाद हजारों में से कोई एक ही सीख पाता है। लेकिन अगर आप किसी ढोंगी से पूछें तो उसे हाथ देखना अवश्‍य आता होगा और उसके बाद उसकी गोलमोल बातों का सिलसिला आपको ऐसे उलझाएगा कि आप उससे खुद पूछने लगें कि निराकरण क्‍या है और आपकी जेब ढीली हो जाएगी।

आजकल लोग पुस्तक पड़कर ज्योतिषी बन जाते है; ये लोग ठीक से भविष्यवाणी नहीं कर सकते है. ज्योतषी बनने के लिए मनुष्य में जन्मजात गुण होते है ; जैसे हर आदमी साइंस पड़कर वैज्ञानिक नहीं बन सकता है; हर आदमी दर्शन पड़कर दार्शनिक नहीं बन सकता है; गणित पड़कर गणितज्ञ नहीं बनसकता है; उसी तरह हर आदमी ज्योतिष पड़कर ज्योतिषी नहीं बन सकता है; ज्योतिषी बनाने के लिए सात्विक गुण होने चाहिए .विवेक का जाग्रति भी जरुरी है. लिसका विवेक जाग्रति नहीं है वो किताब पड़कर ज्योतिषी केसे बनेगा..???
कहा भी गया हें की “”पोथी पढ़ -पढ़ जग मुआ,पंडित भया ना कोय ..””””

कुछ ऐसे प्‍वाइंट जो किसी का भविष्‍य नहीं बता सकते केवल उल्‍लू बना सकते हैं। यह जानना इसलिये बहद आवश्‍यक है, क्‍योंकि आये दिन लोग ढोंगी तांत्रिकों एवं ज्योतिषाचार्यों का शिकार हो रहे हैं। घर में गरीबी दूर करने, पति की अच्‍छी नौकरी, बच्‍चों की पढ़ाई, स्‍वास्‍थ्‍य आदि के लिये आये दिन महिलाएं बाबाओं के पास जाती हैं। लेकिन कई बार ये बाबा उन्‍हें इस्‍तेमाल करने लगते हैं।
यदि ऐसे तांत्रिकों एवं ज्योतिषाचार्यों,बाबाओं से बचना है तो निम्न बातों को ध्‍यान में जरूर रखियेगा। पहली बार में आप समझ जायेंगे कि वो ढोंगी है या वास्‍तव में कोई सिद्ध व्‍यक्ति—-

अगर कोई ज्‍योतिष, साधू, पंडित, मौलाना, बाबा, आदि कोई भी यह कहे कि आप के कष्‍ट दूर करने के लिये वो पूजन करेगा। आपकी तरफ से वो व्रत रखेगा तो समझ लीजिये वो आपको बेवकूफ बना रहा है। क्‍योंकि किसी भी पूजन का असर तभी होता है, जब व्‍यक्ति खुद करता है। ऐसी तमाम बाते हैं, जिन्‍हें ध्‍यान में रखते हुए आप सावधान हो सकते हैं।

जेसे पैसा आता है लेकिन रुकता नहीं —–

यह वाक्‍य सबसे पहला पत्‍ता है जो हाथ दिखाने वाले के ऊपर फेंका जाता है। ठग, बड़े ध्‍यान से हाथ देखते है और कहते है कि आपके पास पैसा आता है लेकिन रुकता नहीं, खर्च हो जाता है। गौरतलब बात यह है कि जो व्‍यक्ति ऐसे लोगों में विश्‍वास रखता है वो केवल आम आदमी ही हो सकता है और मंहगाई के इस दौर में मिडिल क्‍लास के पास पैसा कभी सेव नहीं हो पाता, ऐसे में इन बातों को केवल बेवकूफ बनाने वाली ट्रिक समझें, इससे ज्‍यादा कुछ नहीं।

काफी बुरा वक्‍त काफी बुरा वक्‍त था आपका—-

अब कुछ सुधार है और आगे और भी अच्‍छा होगा : लोग कभी भी खुद से संतुष्‍ट नहीं रहते। जब तक लाइफ है तब तक दिक्‍कतें, समस्‍याएं और उलझनें है ऐसी बातों का बताने का कोई भी औचित्‍य नहीं होता है। अगर ऐसी बात कोई कहता है तो उसे केवल झूठ ही समझें क्‍यूंकि बचपन को छोड़कर, पॉस्‍ट कभी अच्‍छा नहीं लगता।

भाग्‍य आपके साथ नहीं आपका भाग्‍य साथ नहीं देता : —–

अक्‍सर ठग लोग इस ट्रिक का इस्‍तेमाल सबसे ज्‍यादा करते है क्‍यूंकि वो जानते है कि लोगों का भरोसा भाग्‍य पर ज्‍यादा होता है और ऐसा कहने पर वह हल पूछेंगे और बाद में पैसा भी देगें। यह बात अपने मन में बैठा लें कि भाग्‍य आपका तब तक साथ नहीं देता है जब तक आप स्‍वंय मेहनत नहीं करते है।

मंगल भारी, बुध नीचे —–

गृहस्‍थ जीवन काट रहें आम आदमी को ग्रहों और उसकी स्थिति का ज्ञान नहीं होता है। ऐसे में कई ठग ग्रहों की भारी भरकम बातें करके आपको, आपके खराब भविष्‍य के बारे में ड़राते है और पैसा ऐठनें की कोशिश करते हैं। ज्ञानी ज्‍योतिषी कभी भी आपको ग्रहों के बारे में इतनी बड़ी – बड़ी बातें नहीं बताएंगे और अगर बताएंगे भी उनका अर्थ और सार भी समझा देगें ताकि आप उनकी वैल्‍यू समझ सकें।

कोई आपका बुरा करना चाहता है कोई आपका भला नहीं चाहता, टोना – टोटका करवाया है :—–

वर्तमान में कोई भी किसी का भला चाहता हो या न चाहता हो लेकिन खुद की कशमकश में उसके पास इतना टाइम नहीं होता है कि वो आपके ऊपर टोना करवाता घूमें। टोना और टोटके की बातें केवल अज्ञानी लोग ही करते है, ज्ञानी और प्रकांड ज्‍योतिषी कर्म और परिश्रम को जीवन का गहना मानते है।

आप पैसे दें पूजा हम करेंगे पैसों से दें हल:—-

अगर कोई भी आपको सारी बातें बताए और बाद में कहे कि यह पूजा करवा लो, मैं कर दूंगा, अकेले में होती है, आदि तो आप समझ लें कि आप काफी देर से पोपट बन रहे हैं। वास्‍तव में उन्‍हे कोई ज्ञान नहीं है। वह केवल लोगों को ठग कर अपना पेट पाल रहे हैं।

पता चल जाने पर ऐसे लोगों को यह अवश्‍य की दें कि आप ईश्‍वर पर आस्‍था रखते है उनके नाम पर किए जाने वाले अंधविश्‍वास पर नहीं। मारें पीटे नहीं क्‍यूंकि बुरी नीयत, कभी सुखी जीवन नहीं देती है।
*********************************************
मित्रों, उक्त बातों/विषयों पर आप सभी अपनी-अपनी टिपण्णी/विचार/राय जरुर दीजियेगा,
ताकि आम लोग/जनता इस प्रकार की ठगी से बच पायें..
—धन्यवाद…
—-प्रतीक्षारत…
आपका शुक्रिया/ धन्यवाद / आभार…
पंडित दयानंद शास्त्री..
mob ..—-09024390067

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s