जाने महिलाओं और पुरुषों का सेक्स व्यवहार उनकी राशि के अनुसार—

जाने महिलाओं और पुरुषों का सेक्स व्यवहार उनकी राशि के अनुसार—

मनुष्य के जीवनकाल में सेक्स का अहम् स्थान होता है चाहे वह स्त्री हो या फिर पुरुष| आपको बता दें की जिस स्त्री की सेक्सुअल लाइफ अच्छी होगी तो स्त्री का प्यार अपने आप ही बढता जाता है। जिस प्रकार स्वस्थ रहने के लिए पौष्टिक आहार की जरूरत होती है, उसी प्रकार खुशहाल दांपत्य जीवन के लिए अच्छी सेक्सुअल लाइफ का होना भी जरूरी है। प्रेम, संभोग और सेक्‍स की चाहत सभी में होती है, लेकिन क्‍या आपको पता है कि अलग-अलग राशियों वाले लोगों में यह चाहत भी अलग-अलग होती है। इसी पर आज हम चर्चा करने जा रहे हैं। हम आपको बतायेंगे कि राशि के हिसाब से व्‍यक्ति का सेक्‍सुअल बिहेवियर कैसे बदलता है। सेक्स से आपसी रिश्तों में मजबूती आती है और प्यार बढता है। लेकिन शादी के कुछ सालों में ही सेक्स बोर लगने लगता है। इसलिए जरूरी है सेक्स को रोचक बनाना। अगर आप सेक्स को एंजॉय करनला चाहते हैं तोे आपके और आपके पार्टनर के बीच सेक्स से जुडी कु छ चीजों को लेकर आपसी समझ होना बेहद जरूरी है। एक- दूसरे के बारे में जाने- समझे बिना फिजिकल रिलेशन बनाने से आप सेक्स को एंजॉय नहीं कर सकते। यानी कि आप एक- दूसरे को जितना ज्यादा जानेंगे, उतने ही अच्छे संबंध बना पाएंगे। हम आपको ऎसी ही कुछ बातों के बारे में बताने जा रहे हैं जो आपको सेक्स के दौरान ध्यान रखनी चाहिए।

आज आपको हम बताते हैं कि राशि के अनुसार महिलाओं का सेक्स व्यवहार कैसे बदलता है—-

मेष राशि :—– मेष राशि वाली महिलाओं का माथा और मुख काफी संवेदनशील होता है। इन जगहों पर चुंबन लेने से वो सेक्‍स के प्रति काफी जल्‍दी उत्‍तेजित हो जाती हैं। उनके बालों पर धीरे-धेरी स्‍पर्श, उनके होठों व गाल पर चुंबन और कान पर स्‍पर्श उन्‍हें सेक्‍स के प्रति उत्‍तेजित करता है। मेष राशि वाली महिलाओं को सेक्स की तरफ आकर्षित करने के लिए लाल रंग का प्रयोग करें|
वृषभ राशि:—- इस राशि की महिलाएं स्वभाव से बहुत ही रोमांटिक होती है। संभोग के दौरान इस राशि की महिलाएं सेक्‍स की चरम सीमा तक काफी देर से पहुँचती हैं। इन्‍हें सेक्‍स के लिए मनाना काफी कठिन होता है। वृषभ राशि वाली महिलाओं की गर्दन सेक्‍स के प्रति काफी संवेदनशील होती है। यदि आप उन्‍हें सेक्‍स के प्रति उत्‍तेजित करना चाहते हैं तो उनकी गर्दन पर चुंबन से शुरुआत करें। यदि आप उन्‍हें एक सुंदर हार तोहफे में देते हैं, तो वो आपकी तरफ खिंची चली आयेंगी।
मिथुन राशि:—- मिथुन राशि के जातकों का स्वामी बुध होता है इसलिए इस राशि की महिलाओं को आकर्षण बहुत पसंद होता है और यह हमेशा सेक्‍सुअली एक्टिव होती हैं। आपको बता दें कि इनको लुभाने के लिए कमरे में अपनी शादी की रोमांटिक फोटो चिपकाकर या उस जगह पर ले जाएं जहां बहुत सी रोमांटिक यादें जुडी हों। मिथुन राशि वाली महिलाओं के हाथ, खास तौर से हथेली काफी संवेदनशील होती हैं। उनकी उंगलियों, हथेली, हाथ पर चुंबन लेने से वो सेक्‍स के प्रति आसानी से उत्‍तेजित हो उजाती हैं। उनकी उंगलियों को मुंह में चूसना, उंगलियों से फोर प्‍ले करना और उनके कंधों पर चुंबन लेना उन्‍हें तेजी से उत्‍तेजित करता है।
सिंह:—– सिंह राशि के जातकों का स्वामी सूर्य है इसलिए इन स्त्रियों को दिखावा बहुत भाता है। जब तक आप सेक्सी माहौल नहीं बनाते तब तक इनका मूड नहीं बनता। लडकियों का मिजाज कुछ परिवर्तित होता है। कई बार संभोग के दौरान ये इतने ज्‍यादा उत्‍तेजित हो जाते हैं, कि इन्‍हें किसी भी बात का खयाल नहीं रहता। ये अपने पार्टनर को खुद पर हावी नहीं होने देते हैं। रात को नहाकर कपडों पर हल्का परफ्यूम लगा कर अपने पार्टनर के सेक्सी अंगों की तारीफ करें तथा सेक्स करने के अंदाज की तारीफ करने से ही वे मूड में जाती है। सिंह राशि वाली महिलाओं की पीठ सेक्स के प्रति सबसे संवेदनशील जगह होती है। आप अगर उनकी पीठ पर सुनहरा स्पर्श करते हैं, तो वो आसानी से सेक्‍स के प्रति उत्‍तेजित हो जाती हैं।
कर्क राशि:—- कर्क राशि के जातक ज्‍यादा भावुक एवं मानसिक तौर पर संवेदनशील होने की वजह से यौन क्रियाओं का सुख उठाने में पीछे रह जाते हैं क्योंकि इस राशि के लोग मनचले होते हैं| ये अपने पार्टनर की संतुष्टि से ज्‍यादा अपनी संतुष्टि पर ध्‍यान देते हैं। यही कारण है कि इनकी सेक्‍स लाइफ नीरस होती है। इस राशि की लडकियों का कैंडल लाईट डिनर बहुत पसंद है। कर्क राशि वाली महिलाएं आसानी से सेक्स के प्रति उत्‍तेजित नहीं होतीं। सेक्स के प्रति सबसे संवेदनशील भाग उनके वक्ष होते हैं। उनके वक्षों को स्पर्श कर आप उन्हें संभोग के लिए आसानी से प्रेरित कर सकते हैं।
कन्या राशि:—— कन्‍या राशि की स्त्रियाँ अपने अंदर सेक्‍स के प्रति चाहत को जल्‍दी दर्शाती नहीं हैं। इनके अंदर सेक्‍स की भूख काफी होती है, लिहाजा फोरसेक्‍स या ओरल सेक्‍स में ज्‍यादा समय नष्‍ट नहीं करती। कन्या राशि वालों के पेट पर एक चुंबन उनके अंदर सेक्स की तीव्र इच्छा पैदा करता है। उनका पेट सेक्‍स के प्रति सबसे संवेदनशील भाग होता है। पेट पर स्‍पर्श और मसाज से आप उन्‍हें उत्‍तेजित कर सकते हैं।
तुला राशि:—- तुला राशि का स्वामी शुक्र है, जो काम शाक्ति को बढाने वाला ग्रह कहलाता है। इस राशि की स्त्रियाँ आसानी से आकर्षित हो जाती हैं, लिहाजा यौन क्रिया की चरमसीमा तक पहुंचने में इन्‍हें दिक्‍कत नहीं होती। संभोग के दौरान बाते करना पसंद नहीं करती । तुला राशि वाली महिलाओं की पीठ का निचला हिस्सा काफी संवेदनशील होता है। तुला राशि वाली महिलाओं को सेक्स के लिए उत्‍तेजित करने के लिए हिप्स के ठीक ऊपर के भाग में स्पर्श करने से उत्‍तेजना पैदा होती है।
वृश्चिक राशि:- वृश्चिक राशि वाली महिलाएं सेक्स के प्रति काफी आकर्षित होती हैं| वृश्चिक राशि वाली महिलाओं सेक्स के लिए सबसे ज्‍यादा संवेदनशील होती है। धीरे-धीरे स्पर्श एवं मसाज से वो बहुत जल्द उत्‍तेजित हो उठती हैं। यही कारण है कि वृश्चिक राशि वाली महिलाओं को सेक्स की चरम सीमा तक पहुंचने में काफी समय लगता है।
धनु राशि:—– धनु राशि वाली महिलाएं धार्मिक विचारों वाली होती हैं। इस राशि की महिलाओं को एकांत में रोमांस करना पसंद होता है। इस राशि की लडकियां रोमांटिक संगीत, सेक्सी फिल्म तथा सेक्सी बातों से आपकी तरफ आकर्षित हो सकती हैं। धनु राशि वाली महिलाएं लंबे समय तक फोरप्ले पसंद करती हैं। उनके लिए जांघ सबसे ज्‍यादा संवेदनशील अंग होता है। जांघ पर स्पर्श करने से वो काफी तेजी से उत्‍तेजित हो जाती हैं।
मकर राशि:—— मकर राशि वाली महिलाओं के पैर सबसे ज्‍यादा संवेदनशील होते हैं। पैर के किसी भी भाग पर स्‍पर्श और चुंबन से वो जल्‍द उत्‍तेजित हो उठती हैं। मकर राशि की स्त्रियाँ सेक्स करने के दौरान बात करना पसंद नहीं करते। इस राशि की लडकियों का रोमांस में रूझान बढाने के लिए खूब घूमे-फिरें,शादी की रोमांटिक बातें करें।
कुंभ राशि:—– कुंभ राशि वाली महिलाओं की कोहनी और कंधे पर छोटा सा स्‍पर्श उन्‍हें उत्‍तेजित कर देता है। कुम्भ राशि की स्त्रियों का स्वामी शनि होने पर लड़कियों को रात को नहा कर सेक्स करने में आनंद मिलता है। इस राशि को लडकियों का मन आकर्षित करने के लिए कपडों में हल्का परफ्यूम लगाएं|
मीन राशि:——इस राशि की लडकियों को आंखों में आंखें डालकर देखना अच्छा लगता है। सरप्राइज गिफ्ट लेना पसंद करती हैं। थोडी जबरस्ती की शरारतें व कुछ नया करना अच्छा लगता है। मीन राशि वाली महिलाओं के पैर के निचले हिस्से में स्पर्श, चुंबन या मसाज से सेक्स के प्रति उत्‍तेजना बढ़ती है। धीरे-धीरे एड़ी से शुरुआत कर आप उन्‍हें संभोग के लिए आसानी से आकर्षित कर सकते हैं।
——————————————————————————————–
पुरुषों का सेक्स व्यवहार राशि के अनुसार—

मेष (21 मार्च से 19 अप्रैल):—— मेष राशि वाले काफी हॉट एवं कामुक होते हैं। इन्‍हें ज्‍यादा लंबे समय तक सेक्‍स नहीं पसंद होता। कम समय में ज्‍यादा लुत्‍फ उठाने वाले इन लोगों में संभोग के दौरान एक अलग सी आग होती है। संभोग के लिए काफी जल्‍दी उत्‍तेजित भी हो जाते हैं। यदि इनका पार्टनर मेष राशि वाला हो तो प्‍यार का अहसास कई गुना बढ़ जाता है।

वृषभ (20 अप्रैल से 20 मई):—– संभोग के दौरान वृषभ राशि वाले सेक्‍स की चरम सीमा तक काफी देर से पहुंचते हैं। यदि आप अचानक इन्‍हें सेक्‍स के लिए उत्‍तेजित करना चाहें तो भी ये उत्‍तेजित नहीं होते। इन्‍हें संभोग से पहले फोरप्‍ले व ओरल सेक्‍स पसंद होता है। चुंबन में ये काफी एक्‍सपर्ट होते हैं। इन्‍हें सेक्‍स के लिए मनाना काफी कठिन होता है।

मिथुन (21 मई से 21 जून):—— जेमिनी हमेशा सेक्‍सुअली एक्टिव होते हैं। संभोग के दौरान पार्टनर से बातें करना इन्‍हें पसंद होता है। ये हमेशा संभोग के लिए तैयार रहते हैं। चरमसीमा तक पहुंचने में भी ये काफी माहिर होते हैं। इन्‍हें उत्‍तेजित करना भी काफी आसान होता है। एक से अधिक लोगों के साथ यौन संबंध बनना काफी आम होता है। ये अपने पार्टनर को संतुष्‍ट करना अच्‍छी तरह जानते हैं।

कर्क (22 जून से 22 जुलाई):—– कर्क राशि वाले लोग बहुत ज्‍यादा भावुक एवं मानसिक तौर पर संवेदनशील होने की वजह से यौन क्रियाओं का सुख उठाने में पीछे रह जाते हैं। ये काफी मूडी होते हैं। ये अपने पार्टनर की संतुष्टि से ज्‍यादा अपनी संतुष्टि पर ध्‍यान देते हैं। यही कारण है कि इनकी सेक्‍स लाइफ नीरस होती है। हां अगर ये मूड में आ जायें तो यौन सुख देने में सबसे आगे रहते हैं।

सिंह (23 जुलाई से 22 अगस्‍त):—– सिंह राशि वाले तब तक संभोग के लिए आगे नहीं बढ़ते जब तक पार्टनर की ओर से सिगनल नहीं मिलता। संभोग के दौरान ये काफी ऊर्जावान होते हैं। कई बार संभोग के दौरान ये इतने ज्‍यादा उत्‍तेजित हो जाते हैं, कि इन्‍हें किसी भी बात का खयाल नहीं रहता। ये अपने पार्टनर को खुद पर हावी नहीं होने देते हैं।

कन्‍या (23 अगस्‍त से 22 सितम्‍बर):—- कन्‍या राशि वाले अपने अंदर सेक्‍स के प्रति चाहत को जल्‍दी दर्शाते नहीं हैं। इनके अंदर सेक्‍स की भूख काफी होती है, लिहाजा फोरसेक्‍स या ओरल सेक्‍स में ज्‍यादा समय नष्‍ट नहीं करते। ये भी काफी मूडी होते हैं। अगर मूड नहीं है, तो चाहे उनके पार्टनर कुछ भी कर लें, ये संभोग नहीं करते। ये सिर्फ विश्‍वस्‍त पार्टन से ही सेक्‍स करते हैं।

तुला (23 सितम्‍बर से 23 अक्‍तूबर):—– तुला राशि वाले अपने पार्टनर को हमेशा संतुष्‍ट करते हैं। ये अपने पार्टनर की इच्‍छा पर ही संभोग के लिए आगे बढ़ते हैं। ये आसानी से आकर्षित हो जाते हैं, लिहाजा यौन क्रिया की चरमसीमा तक पहुंचने में इन्‍हें दिक्‍कत नहीं होती। संभोग के दौरान बाते करना पसंद नहीं करते।
वृश्चिक (24 अक्‍तूबर से 21 नवंबर): वृश्चिक राशि वालों के अंदर संभोग के प्रति भूख बहुत ज्‍यादा होती है, लेकिन वो भी उनके मूड पर निर्भर करता है। ये लोग बहुत ज्‍यादा भावुक होने के कारण आसानी से सेक्‍स करते। इनके पार्टनर अपनी सेक्‍स लाइफ को लेकर काफी परेशान रहते हैं। इनके सबसे अच्‍छे यौन संबंध वृश्चिक राशि वालों के साथ ही बनते हैं।

धनु (22 नवम्‍बर से 21 दिसम्‍बर): धनु राशि वाले काफी उत्‍साहवर्धक होते हैं। यौन जीवन को खुलकर जीने वाले होते हैं और बहुत जल्‍द सेक्‍स के लिए तैयार भी हो जाते हैं। इन्‍हें चुंबन या फोरप्‍ले ज्‍यादा पसंद नहीं होता। सीधे संभोग में इन्‍हें ज्‍यादा मजा आता है। इनके अंदर उत्‍तेजित करने वाली फीलिंग्‍स कूट-कूट कर भरी होती हैं। आसानी से चरम सीमा तक पहुंच जाते हैं।

मकर (22 दिसम्‍बर से 19 जनवरी):—– मकर राशि वाले लोग सेक्‍स लाइफ में काफी सावधानीपूर्वक चलते हैं। ये सही व्‍यक्ति से ही यौन संबंध स्‍थापित करते हैं। दूसरों के लिए इनमें कोई रुचि नहीं होती। ईमानदार सेक्‍स लाइफ ही इनका मंत्र है। ओरल सेक्‍स इन्‍हें काफी पसंद होता है। पार्टनर की इच्‍छाओं का खयाल रखने के मामले में ये थोड़े से लापरवाह होते हैं।

कुंभ (20 जनवरी से 18 फरवरी):—– कुंभ राशि वाले सेक्‍स लाइफ में प्रयोग करना पसंद करते हैं। कई बार संभोग के दौरान ये इतने ज्‍यादा उत्‍तेजित हो जाते हैं, कि इन्‍हें किसी भी बात का खयाल नहीं रहता। संभोग के दौरान बाते करना पसंद नहीं करते। ये अपने पार्टनर की संतुष्टि से ज्‍यादा अपनी संतुष्टि पर ध्‍यान देते हैं।

मीन (19 फरवरी से 20 मार्च):—– संभोग के लिये ये हमेशा तैयार रहते हैं। मीन राशि वाले अपने पार्टनर की भावनाओं को समझने में काफी आगे रहते हैं। लिहाजा अपने पार्टनर को संतुष्‍ट करना भी इन्‍हें अच्‍छी तरह आता है। इन्‍हें अलग-अलग तरह की क्रियाओं में संभोग करना पसंद होता है। मीन राशि वालों को सेक्‍स का सबसे सुखद ऐहसास इसी राशि वाले पार्टनर के साथ होता है।
——————————————————————————————-
महिलाओं का सेक्स स्वभाव जानें इन आसान तरीकों से—-

महिलाओ के व्यक्तित्व को जानने की जिज्ञासा प्रत्येक व्यक्ति मे होती है। आकृति विज्ञान एक ऎसा अध्ययन है जो शरीर के अंगो तथा ढील-ढौल से व्यक्तित्व का परिचय देता है। इस श्रंखला में हम आज आपको बताते है कि ऑंखो और नाक की बनावट से कैसे किसी महिला का व्यक्तित्व जाना जा सकता है।
ऑंखे:—- ब़डी, बैचेन, चमक तथा गहरी पुतली और आस पास लालिमा वाली ऑंखे, महिला के भाग्यशाली होने की प्रतीक है साथ ही साथ यह महिलाएं दंबग प्रवृति तथा समाज मे नेतृत्व करने वाली होती है। छोटी, सुस्त उदास स्लेटी रंग, गोल, थो़डी मु़डी, खाली और थो़डी कबूतर जैसे ऑंखे एक महिला की करूपता को प्रदर्शित करती है। यह महिलाएं चतुर होती है तथा जीवन मे आगे नही बढ़ना चाहती है। लाल ऑंखे वाली महिलाएं धोखेबाज व बईमान होती है। अगर ऑंखे ब़डी लम्बी तथा हल्की लालिमा लिए होती है तो यह महिला के आवेशपूर्ण होने को दर्शाती है, ऎसी ऑंखो वाली महिलाएं समाज मे बहुत लोकप्रिय होती है।
गोल व काली ऑंखे वाली महिलाएं बहुत सेक्सी होती है। हमेशा नींद भरी ऑंखो वाली महिलाएं अपने विपरित सेक्स के प्रति जल्दी आर्कषित होने वाली तथा जल्दी चरित्र छो़ड देने वाली होती है नरम किनारो व काली पलको वाली ऑंखे रखने वाली महिलाएं भाग्यशाली होती है। अगर ऑंखो के किनारे पर हल्के बाल हो, ऑंखो में पीलापन हो तो यह ज्यादा बीमार रहने वाली महिलाओं का परिचय देती है।
नाक:—- यदि एक महिला की नाक तोते की तरह झुकी हुई है तो वह अच्छे स्वभाव शोहरत पसंद, चतुर तथा परिवार की शुभचिंतक होती है।
अंतर्वस्त्रों से जाने: —एक वैज्ञानिक शोध के अनुसार महिलाओ के अंतरवस्त्रो का रंग उनके रोमांटिक मूड तथा प्रेमी व्यक्तितत्व को दर्शाता है। एक मनोवैज्ञानिक डॉ डासन के अनुसार लाल, पीला तथा नारंगी रंग गर्म स्पेक्ट्रम को दर्शाता है जो कि ऊर्जा तथा उत्साह की भावनाएं पैदा करता है, यह हमारे दिल की धाडकन और रक्तचाप को भी ब़डा सकते है।
लाल/पीला/ऑंरेज:- —इन रंगो के अंतरवस्त्र आवेशपूर्ण ऊर्जावान तथा नाटकीय स्वभाव को दर्शाते है। यह रंग पसंद करने वाली महिलाएं बिदास होती है तथा उनका मुड भी नाटकीय रूप से बदलता है जो कि उनके आकर्षण का एक हिस्सा है।
गुलाबी रंग:- यह रंग पसंद करने वाली महिलाएं स्वभाव से रोमांटिक तथा विन्रम होती है, इन्हे अधिक से अधिक स्त्रेह पाने की लालसा होती है। यह महिलाएं काफी कामुक होती है परंतु कभी आगे से पहल नही करती है।
काला रंग:—- यह रंग एक व्यक्तिपरक और शक्तिशाली व्यक्तित्व को दर्शाता है। इस तरह की महिलाएं सूक्षम आकर्षण वाली परन्तु आवेशपूर्ण होती है।
सफेद रंग:- —-यह रंग पंसद करने वाली महिलाएं मासूम परंतु सुझाव देने के लिए तत्पर रहती है। यह एक अच्छी शिक्षार्थी भी होती है।
स्किन या भूरा रंग:—- यह रंग स्वाभाविक वास्तविक तथा पारदर्शी व्यक्तितत्व को दर्शाता है। इसको पसंद करने वाली महिलाएं कुछ भी छुपाना पंसद नही करती है। एक सर्वेक्षण में पाया गया है कि अब 72 प्रतिशत महिलाएं अंतरवस्त्रो की खरीदारी करते समय स्किन या भूरे रंगो वाले अंतरवस्त्रो का पंसद करने लगी है इसका अर्थ यह है कि आज की महिला रोमांस के मामले मे पीछे नही है और अपने आप को पूर्ण रूप से खुले रूप में प्रदर्शित करने मे नही कतराती है।
बुनियादी रूप में महिलाओं में अंतरवस्त्रो के रंगो के पंसद को इतनी तेजी से बदलने के लिए कही ना कही मशहूर हस्तियॉं जिम्मेदार है। हॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री इवा मेंडीस ने हाल ही मे यह खुलासा किया है कि वह स्किन कलर या बिलकुल सादे अंतरवस्त्रो मे सबसे ज्यादा सेक्सी लगती है। तो जनाब, अगली बार जब आप अपनी किसी महिला साथी के लिए अंतरवस्त्रो की खरीदारी पर जाये तो उनके रंगो पर जरूर विचार किजिएगा।
——————————————————————————–
विशेष ध्यान सेक्स में रखें इन बातों का—-

1. एक दूसरे का साथ दें सेक्स को लेकर पुरूषों में महिलाऔं से ज्यादा जिज्ञासा रहती है। पुरूष कभी भी, कहीं भी सेक्स के लिए तैयार हो जाते हैं। महिलाओं की सोच इससे थोडी अलग है। लेकिन दोनों को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि जब भी दोनौं में से किसी की सेक्स करने की इच्छा हो तो, दोनों को एक दूसरे की भावनाओं का ध्यान रखना चाहिए। अगर आपका पार्टनर फिजिकल रिलेशन चाहता है और उसका मूड रोमांस का नहीं है, तो भी उसको पूरा सहयोग दें। अगर आप उस वक्त उसका साथ देंगे तो रोमांस अपने आप शुरू हो जाता है।
2. एक्सप्रेशन सेक्स के दौरान अपने एक्सप्रेशन को छुपाएं नहीं। पार्टनर को हग करने से लेकर किस करने तक में उसका सहयोग करें। अगर आप बेड पर अपने पार्टनर की हेल्प नहीं करते, तो आपका रियल लाइफ में अच्छा होना मायने नहीं रखता। अच्छे सेक्स के लिए अपनी एनर्जी को बनाए रखें। अगर आप सेक्स के दौरान सुस्त रहेंगे, तो सेक्स संबंधों को भरपूर एंजॉय नहीं कर पाएंगे। इसलिए ऊर्जा के साथ अपनी फीलिंग्स खुलकर जाहिर करें।
3. खुलकर बात करें सेक्स के दौरान एक बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए। सेक्स में आप जो कुछ चाहते हैं, उसे खुलकर अपने साथी को बताएं। आपका साथी आपका दिमाग तो पढ नहीं सकता/सकती। बाद में यह शिकायत करना कि आपको तो हर चीज समझानी पडती है, गलत है। इसलिए खुलकर अपने विचार अपने साथी को बताएं। फिजिकल होने के दौरान आपको क्या पसंद है और क्या नहीं। यहीं नहीं, अपने ऎसे बॉडी पार्ट्स के बारे में भी बताएं, जिन्हें उनका छूना आपको अच्छा लगता है। इससे आपके साथ आपके पार्टनर को भी इस बात को लेकर संतुष्टि रहेगी कि वह जो कर रहे हैं, वह आपको अच्छा लग रहा है।
4. सेक्सुअल फैंटेसी सेक्सुअल फैंटेसी गलत नहीं है। अगर आप सेक्स को एंजॉय करना चाहते हैं तो अपने पार्टनर को अपनी सेक्सुअल फैंटेसी के बारे में जरूर बताएं। अपने साथी को अपनी ओर आकर्षित करने का सबसे आसान तरीका है कि आप उनकी फैंटेसी को पूरा करने में उनका साथ दें। लेडीज को यह बात नहीं भूलनी चाहिए कि पुरूषों की सेक्स में उनसे ज्यादा रूचि होती है और वे इसे खुलकर जाहिर भी करते हैं। महिलाओं को भी अपने पार्टनर के साथ अपनी सेक्सुअल फैंटेसी शेयर करनी चाहिए। अगर आप उनको खुलकर नहीं बताएंगे , तो आपका पार्टनर कैसे समझ पाएगा कि आपको फिजिकल रिलेशनशिप के दौरान क्या अच्छा लगता है ?
5. वैराइटी जिस तरह रोजमर्रा में वैराइटी की जरूरत होती है , वैसे ही सेक्स में भी वैराइटी बनाए रखें। एक जैसी एक्टविटीज अपनाने से आप लंबे समय तक सेक्स को एंजॉय नहीं कर सकते। सेक्स के दौरान नए-नए आसन ट्राई करें। अगर आपका पार्टनर कोई नई पॉजिशन सजस्ट करे , तो उनको गौर से सुनें , समझें और अपनाएं। नहीं। नई चीजों को एक बार जरूर ट्राई करें। बाद में उन्हें लाइफ में अपनाना और न अपनाना तो आपके अपने हाथ में ही है।
6. इमोशनल अटेचमेंट सेक्स के द्वारा आप अपने प्यार व फीलिंग्स को अपने पार्टनर को सबसे अच्छी तरह से जाहिर कर सकते हैं। इसमें बनी गर्मजोशी आपके प्यार को दर्शाती है। किसी भी रिलेशनशिप में ल़डाई और वाद-विवाद होना आम बात है। लेकिन आप इन झगडों को पल भर में अपने प्यार से मिटा सकते हैं। बल्कि आपको यह जानकर सरप्राइज होगा कि किसी विवाद के बाद आपका प्यार दोगुना हो जाता है। हालांकि शुरू में आपको इस इमोशनल अटेंचमेंट का अंदाजा नहीं होगा , लेकिन आगे चलकर आपको इस प्यार की गहराई पता चलेगी।
—————————————————————————————————-
सेक्स को बनाएं यादगार ये टिप्स अपनाकर–
क्या आप और हम हमेशा अपने साथी को संतुष्ट करने में सफल रहते हैंक् क्या हमने हर बार ध्यान रखा है कि हमारे पार्टनर की पसंद और नापसंद क्या हैंक् क्यों हम एक दूसरे के प्रति अत्यधिक प्रेम होने के बाद भी संबंधों में मानसिक संतुष्टि का अनुभव नहीं कर पाते हैं?
क्या ऎसे सवाल आपके मन में भी उठते हैं।
प्रारंभिक उम्र [किशोरावस्था से युवावस्था] में किशोरों को सेक्स की जो अधूरी जानकारी प्राप्त होती है, उसके कारणवश ज्यादातर जोडे शादी के बाद अपने इस अधूरे ज्ञान के साथ शारीरिक संबंध तो बना लेतें हैं परन्तु इस अंतरंगता के रंग में छिपी दिलों की आत्मियता का मेल करने में चूक जाते हैं। इसका सबसे मुख्य कारण वैवाहिक जोडों का आपस में संबंधों को लेकर खुलकर बात करने में झिझक महसूस करना है। प्यार करना भी एक कला है और किसी भी अन्य कला की तरह ही आपको इसे बेहतर बनाने के लिए पूरी तैयारी करने की जरूरत है। इसलिए आज हम आपको प्यार की इस कला में महारत हासिल करने और एक यादगार लव मेकिंग केअनुभव के लिए कुछ जरूरी टिप्स बता रहे हैं। अब हम आपको कुछ शारीरिक सेंस के बारे में बतातें हंै जो यौन संबधों में और अधिक आकर्षण पैदा करते हैं।
प्यार करने की इस पाठशाला में कामक्रीडाओं की भूमिका को नकारा नहीं जा सकता है। जिस प्रकार पुरूष या महिला एक दूसरे से शारीरिक रूप से भिन्न हैं। उसी प्रकार उनके प्यार को लेकर पसंद, नापसंद और तरीके भी भिन्न होते हैं। अगर हम पुरूषों की बात करें तो जहां वे शारीरिक रूप रंग और स्पर्श मात्र से उत्तेजित हो जाते हैं, वहीं महिलाऔं को एक अच्छा माहौल ज्यादा आकर्षित करता है। लेकिन अलग-अलग पसंद के बाद भी काम क्रीडाऔं के 5 सेंस ऎसे हैं जो स्त्री-पुरूष दोनों वर्ग को प्रभावित करते हैं। यों तो ये सेंस बहुत छोटी-छोटी बातों से जुडे हैं लेकिन इनकी अहमियत किसी को जीतने के लिए बनाई गई योजनाओं से कम नहीं है।
आइए हम आपको बताते हैं इन पांच सेंस के बारे में।
1. सबसे पहले आता है एक दूसरे की प्रशंसा करना। इसलिए अपने सेक्स को सफल बनाने के लिए अपने साथी के वस्त्रों से लेकर उसके शरीर के खूबसूरत अंगों की तारीफ करें।
2. अपने चुंबनों व आलिंगनों से एक दूसरे के प्रत्येक अंगों में प्यार भर दें। सेक्स करते वक्त दोनों साथी बराबर सहयोग करें। कई बार महिलाएं जरा पीछे रहती हैं लेकिन उन्हें भी पूरा सहयोग करना चाहिए।
3. संवेदनशील अंगों को स्पर्श करना। स्त्री व पुरूष दोनों में कुछ कॉमन हिस्से जैसे कान के पीछे, गर्दन, नाभी या उसके आसपास का हिस्सा इनरथाई आदि ऎसे संवेदनशील हिस्से होते हैं जिन्हें छूने से उत्तेजना बढ जाती है। जितना अधिक आप इन हिस्सों पर अपना स्पर्श देंगे उतना ही अधिक प्यार के लिए इच्छा जाग्रत होगी।
4. चौथा सेंस है नित नई सेक्स पॉजीशन को अपनाएं। यदि आपको लगने लगे कि यौन जीवन कुछ ऊबाउ सा हो गया है तो इसमें नयापन लाएं। अपने साथी को आकर्षित करने के लिए उत्तेतक वस्त्र धारण करें। कभी कभी अपने पुराने दिनों को याद करते हुए खुद में और अपने साथी में उत्साह जगाने का प्रयास करें। प्यार करते वक्त साथी के कानों में धीरे से कुछ रोमांटिक शब्द कहें। उसे बताएं कि वह जो यौन क्रियाएं अपना रहा है उससे आप मदहोश हो रहे हैं और आप उसे और अधिक पाना चाहते हैं।
5. पांचवां सेंस है कि यौन संबंधों में शारीरिक संतुष्टि मिल जाने के बाद भी एक दूसरे से झटके से अलग न हों बल्कि एक दूसरे के आलिंगन में रहें और चुंबनों का सिलसिला कुछ देर तक चालू रखें। ये आपके प्यार को एक मजबूत नींव देता है। कुल मिलाकर प्यार की इस खिचडी को बनाने में एक अच्छे रोमांटिक माहौल जिसमें एक सॉफ्ट म्यूजिक, रोमानी खुशबू और मध्यम रोशनी का माहौल हो, उसके साथ अगर इन 10 मानसिक और शारीरिक सेंस का तडका लगा दिया जाए तो ये दावा है कि आप हर बार एक बहुत ही रोमांटिक और यादगार लव मेकिंग का अनुभव करेंगे जो कि आपके वैवाहिक जीवन में खुशहाली और नवीनता के साथ आपके संबधों में अवश्य ही एक अटूट रिश्ता कायम करने में मददगार साबित होगा।

2 thoughts on “जाने महिलाओं और पुरुषों का सेक्स व्यवहार उनकी राशि के अनुसार—

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s