कुछ वास्तु टिप्स/उपाय—

कुछ वास्तु टिप्स/उपाय—
सीढ़ियों के वास्तुदोष को ऐसे करें दूर–
सीढ़ियां उन्नति का प्रतीक होती है। इसमें वास्तु दोष होने पर घर में रहने वालों को उन्नति के लिए काफी परिश्रम करना पड़ता है इसलिए सीढ़ियों में किसी प्रकार का वास्तुदोष हो तो उसे तुरंत दूर कर लेना चाहिए। इसके लिए सबसे आसान तरीका है कि मिट्टी का एक कलश लें। इसमें बारिश का पानी भर लें। इस कलश के ऊपर मिट्टी का ढ़क्कन रखकर इसे सीढ़ी के नीचे जमीन में दबा दें।
ऐसा कमरा और बिछावन हो तो जल्दी होती है शादी—
लड़का अथवा लड़की की उम्र विवाह योग्य होने पर उनके माता-पिता को अपने बच्चों का कमरा और बिछावन इस प्रकार से रखना चाहिए ताकि विवाह के अच्छे मौके आएं और विवाह में अधिक परेशानी नहीं आए। वास्तु विज्ञान के अनुसार घर में विवाह योग्य लड़की हो तो उनका कमरा वायव्य कोण में होना चाहिए। लेकिन विवाह के लिए लड़की दिखाने की रस्म उत्तर, ईशान या पूर्व दिशा के कमरे में करें। इससे शादी जल्दी तय हो जाती है।
विवाह योग्य लड़के का कमरा—
विवाह योग्य लड़के का कामरा ईशान या पूर्व दिशा में होना चाहिए। कमरे में पलंग ऐसे रखें ताकि वह किसी एक दीवार से सटा नहीं हो। वास्तुशास्त्र के अनुसार एक तरफ से दीवार से पलंग सटा होने पर विवाह के लिए रिश्ते कम आते हैं और शादी में देरी होती है।
मान सम्मान एवं उन्नति दिलाता है ऐसा मकान—
वास्तु विज्ञान के अनुसार जिस घर में व्यक्ति रहता है उस घर में मौजूद सकारात्मक और नकारात्मक उर्जा का प्रभाव व्यक्ति के ऊपर पड़ता है। इसलिए देखने में आता है कि कोई घर व्यक्ति के लिए बहुत ही भाग्यशाली होता है जिसमें रहते हुए व्यक्ति काफी तरक्की करता है और कुछ घर ऐसा होता है जिसमें रहते हुए व्यक्ति को अक्सर नुकसान उठाना पड़ता है। अगर व्यक्ति किराए का घर लेते समय अथवा अपना मकान बनवाते समय वास्तु सम्बन्धी विषयों का ध्यान रखे तो घर व्यक्ति के लिए भाग्यशाली साबित होगा।
मकान का मुख्य दरवाजा इस दिशा में रखें—
घर के मुख्य द्वार को वास्तुविज्ञान में बहुत ही महत्वपूर्ण स्थान दिया गया है। वास्तु विज्ञान के मुताबिक पूर्व दिशा का स्वामी सूर्य है। यह दिशा उर्जा का प्रतीक होता है। सूर्य पूर्व दिशा से उदित होता है। सूर्य की पहली किरण घर में प्रवेश करने से वास्तु दोष दूर होता है इसलिए घर का मुख्य द्वार पूर्व दिशा की ओर रखें। इससे घर में रहने वालों को आत्मिक बल मिलता है तथा ऐसे घर में रहने वाले लोग कम बीमार पड़ते हैं। पूर्व दिशा वास्तु दोष से मुक्त होने से पिता पुत्र के बीच अच्छे सम्बन्ध बने रहते हैं। मान-सम्मान की वृद्घि होती है। आर्थिक समस्याओं से भी व्यक्ति मुक्त रहता है।
फिटकिरी करेगा वास्तुदोष दूर—
वास्तुदोष से मुक्ति दिलाएं फिटकिरी
फिटकिरी में दूषित पदार्थों को पृथक करने की क्षमता होती है इसलिए खारे पानी को मीठा करने के लिए फिटकिरी का इस्तेमाल किया जाता है। यह पानी में मौजूद बैक्टिरिया को भी नष्ट कर देता है। फिटकिरी एक अच्छा एंटीसेप्टिक भी है इसलिए दाढ़ी-मूंछ बनाने के बाद आफ्टर सेव के तौर पर भी इसका इस्तेमाल होता है। वास्तुशास्त्र के अनुसार फिटकिरी वास्तुदोष दूर करने में भी कारगर होता है इसलिए घर में फिटकिरी रखना चाहिए।
खिड़की पर रखें फिटकिरी—
घर के आस-पास खाली मैदान, खंडहर या बंद पड़ा पुराना मकान होने पर घर में नकारात्मक उर्जा का संचार होता है। इससे घर में अनजाना भय बना रहता है तथा बच्चे अधिक बीमार होते हैं। इस दोष को दूर करने के लिए कांच के एक बाउल में सफेद फिटकिरी भरकर खिड़की पर रखदें। महीने में एक बार फिटकिरी को बदलते रहें।
मुख्य दरवाजे पर फिटकिरी लटकाएं—–
घर का मुख्य द्वार मुख्य सड़क की तरफ या दक्षिण दिशा में होने पर वास्तुदोष उत्पन्न होता है जिससे घर में रहने वाले लोगों को उन्नति के लिए अधिक संघर्ष करना पड़ता है। निराशात्मक विचार मन में आते रहते हैं। दुकान या कार्यालय का मुंह दक्षिण दिशा में होने पर मेहनत के अनुरूप लाभ नहीं मिलता है। इस वास्तुदोष को दूर करने के लिए 250 ग्रा. फिटकिरी लाल रंग के कपड़े में लपेटकर मुख्य दरवाजे पर लटका दें।
सुखी दाम्पत्य जीवन के लिए सही रखे बेडरूम का कलर——
कभी सोचा है कि दाम्पत्य जीवन को प्रेमपूर्ण बनाने में कलर भी अहम भूमिका निभाते हैं। सुनकर हैरान नहीं हों। वास्तु विज्ञान के अनुसार बेड रूप का कलर भी दाम्पत्य जीवन में आपसी प्रेम और कटुता बढ़ाने का काम करते हैं इसलिए जब बेडरूम को कलर करवाना हो तो कलर का चुनाव सावधानी से करें ताकि आपके दाम्पत्य जीवन को कलर की नज़र न लगे।
बेडरूम के लिए ये तीन रंग हैं पर्फेक्ट—-
शुक्र को बेडरूम का कारक माना गया है। शुक्र का रंग है सफेद। बेड रूम की दीवार इस रंग की हो तो आपसी विवाद में कमी आती है। दूसरा रंग जो शुक्र को प्रिय है वह है गुलाबी। गुलाबी रंग को प्रेम का प्रतीक माना जाता है। इस रंग की दीवार होने पर पति-पत्नी के दिल में एक दूसरे के लिए प्यार बढ़ता है। आपसी तालमेल के लिए बेडरूम की दीवार को ग्रीन कलर से पेंट करवाएं।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s